मुग़ल गार्डन - ओपनिंग डेट 2022, टिकट प्राइस, टाइमिंग, फुल हिंदी गाइड

क्या आप मुगल गार्डन जाना चाहते हैं? आपको यह जानने की जरूरत है कि मुगल गार्डन तक कैसे पहुंचे, 2022 में खुलने की तारीख, समय, टिकट बुकिंग सब हिंदी में
राष्ट्रपति भवन को भारत का सबसे महंगा घर माना जाता है। और इसमें बने गार्डन को भारत का सबसे खूबसूरत और शाही गार्डन भी माना जाता है। राष्ट्रपति भवन में बने इस गार्डन को मुगल गार्डन कहा जाता है। इस मुगल गार्डन को देखने के लिए विदेश से पर्यटक आते हैं।

आज आप जानेंगे कि मुगल गार्डन कैसे जाना है?, 2022 में मुगल गार्डन के खुलने का समय। और आपको यहां कब आना चाहिए, या फिर आप कैसे आ सकते हैं ? आप प्रवेश टिकट कैसे प्राप्त कर सकते हैं, और मुगल गार्डन की टिकट की कीमत क्या है? यह सारी जानकारी आपको यहां मिल जाएगी। इसके साथ ही आप मुगल गार्डन का इतिहास भी जानेंगे। आप इस जानकारी को English में भी पढ़ सकते है।

पीक सीजन: बसंत का मौसम
ऑफ़ सीजन: बसंत के बिना
लोकप्रियता: खूबसूरत बगीचे
रेटिंग: ⭐⭐⭐⭐
कीमत: फ्री
समय: 7 घंटे

Mughal Garden, Delhi - Travel Guide
मुग़ल गार्डन, दिल्ली

मुग़ल गार्डन - ओपनिंग डेट 2022, टिकट प्राइस, टाइमिंग, फुल हिंदी गाइड

मुगल गार्डन अपने खूबसूरत फूलों की वजह से पूरी दुनिया में मशहूर है। इस गार्डन में आप दुनिया के लगभग हर तरह के पेड़, फूल और जड़ी-बूटियां देख सकते हैं। इन सभी वृक्षों, पौधों, फूलों और जड़ी-बूटियों के नामों का भी उसी स्थान पर उल्लेख है। जिससे इनकी आसानी से पहचान हो सके।

इस गार्डन में आप मुगल शैली और अंग्रेजी शैली का मिश्रण देख सकते हैं। दिल्ली के इस मुगल गार्डन को सर एडविन लुटियंस ने 1917 में फारसी चारबाग शैली में बनवाया था, जो 1929 में बनकर तैयार हुआ था। चारबाग शैली में आप आयताकार बगीचा और इसके बीच में तालाब के साथ एक झरने को देख सकते हैं।

Mughal Garden, Delhi - Travel Guide
मुग़ल गार्डन, दिल्ली - (Credit)

कुरान के अनुसार जन्नत (स्वर्ग) का बगीचा आयताकार है। जिसमें घूमने के लिए पगडंडी और बीच में तालाब है। इस डिज़ाइन के बगीचे को चारबाग शैली कहा जाता है। चारबाग शैली का निर्माण सबसे पहले मुगलों ने हुमायूँ के मकबरे और ताजमहल में करवाया था। इसके बाद इसे अंग्रेजों ने 1929 में राष्ट्रपति भवन में बनवाया था।
राष्ट्रपति भवन देश के राष्ट्रपति का आवास है। इसके अलावा आप यहां भारत के रक्षा मंत्री और गृह मंत्री का कार्यालय देख सकते हैं। इसके साथ ही आपको कई अन्य नेताओं का कार्यालय भी देखने को मिलेगा। इन कार्यालयों के बीच में एक संग्रहालय भी स्थित है, जिसमें आप भारत के इतिहास की एक झलक देख सकेंगे।

उद्यानोत्सव महोत्सव क्या है?

राष्ट्रपति भवन में हर साल फरवरी से मार्च तक एक खास तरह का त्योहार मनाया जाता है। इस उत्सव में राष्ट्रपति भवन 15 दिनों के लिए पर्यटकों के लिए खोल दिया जाता है। तभी लोग मुगल गार्डन को देख सकते हैं, साथ ही राष्ट्रपति भवन भी घूम सकते हैं।

मुगल गार्डन दिल्ली में कितने गार्डन हैं?

1. जड़ी-बूटी गार्डन

हर्बल गार्डन 2006 में भारत के राष्ट्रपति द्वारा स्थापित किया गया था। प्राकृतिक उपचार को बढ़ावा देने के लिए उद्यान को सुगंधित पौधों और केंद्रीय औषधीय (सीआईएमएपी) की मदद से स्थापित किया गया था। हर्बल गार्डन में आपको हर तरह की जड़ी-बूटियां देखने को मिल जाएंगी। लगभग 33 प्रकार की विशेष जड़ी-बूटियाँ ऐसी हैं, जो दुनिया भर के विभिन्न क्षेत्रों में पाई जाती हैं।

Herbal Garden - Mughal Garden, Delhi
जड़ी-बूटी गार्डन - मुग़ल गार्डन, दिल्ली (Credit)

इन सभी जड़ी बूटियों का उपयोग आयुर्वेद, योग, प्राकृतिक चिकित्सा, यूनानी, सिद्ध और होम्योपैथी के उपचार में किया जाता है। इसका उपयोग मुख्य रूप से कुष्ठ रोग, तंत्रिका संबंधी रोग, संवहनी रोग, गठिया, मिर्गी, मनोभ्रंश, स्मृति हानि, मधुमेह, मासिक धर्म से पहले की अवधि, दर्द बाम, एनाल्जेसिक क्रीम और कफ सिरप जैसी दवाओं में भी किया जाता है।

2. आध्यात्मिक गार्डन

इस आध्यात्मिक गार्डन में भारत में पाए जाने वाले सभी प्रकार के धर्मों से जुड़े पेड़-पौधे लगाए गए हैं। यह गार्डन सभी धर्मों को समान मानने और धर्मों के संदेशों को फैलाने के लिए बनाया गया था।

आध्यात्मिक गार्डन की स्थापना 25 अक्टूबर 2007 को डॉ देवी सिंह शेखावत ने किया था। इस गार्डन में 40 तरह के पेड़ लगाए गए हैं। इस उद्यान में 13 फरवरी 2015 को एक तालाब का निर्माण किया गया था। जिसमें धार्मिक पौधे लगाए गए थे।

Spiritual garden - Mughal Garden, Delhi
आध्यात्मिक गार्डन - मुग़ल गार्डन, दिल्ली

3. आयताकार गार्डन

आयताकार गार्डन राष्ट्रपति भवन के सबसे नजदीक है। यह गार्डन आयताकार है, जो पानी की नहरों द्वारा छोटे-छोटे आयतों में विभाजित है। आयताकार गार्डन मुख्य रूप से सेवा, समारोह आदि के लिए उपयोग किया जाता है।

आयताकार गार्डन में आयताकार क्यारियों में रंग-बिरंगे फूल खिलते हैं। साथ ही इसमें बनी पतली नहरें और इसमें बने फव्वारे गार्डन को और भी खूबसूरत बनाते हैं।

Rectangular garden - Mugal Garden, Delhi
आयताकार गार्डन - मुग़ल गार्डन, दिल्ली (Credit)

4. लॉन्ग गार्डन

लॉन्ग गार्डन में सिर्फ गुलाब के पौधे लगाए जाते हैं। इसमें आप 16 प्रकार के गुलाब के पौधे देख सकते हैं। यह गार्डन बाकि गार्डन से सही मायने में शुद्ध माना जाता है। क्योंकि यह गार्डन 12 मीटर ऊंची दीवारों से घिरा हुआ है। ऊंची दीवारों के कारण यहां गुलाब की सुगंध बनी रहती है, इसलिए यह गार्डन हमेशा गुलाब की खुशबू से भरा रहता है।

लॉन्ग गार्डन को और भी खूबसूरत बनाने के लिए इसमें हाथियों की दो मूर्तियां बनाई गई हैं। लॉन्ग गार्डन में आप रोज आइस बर्ग, रोज समर स्नो, रोज ओला होमा और रोज लुसियाना जैसे गुलाब देख सकते हैं।

5. वृत्ताकार गार्डन

वृत्ताकार गार्डन फूलों का बगीचा है। वृत्ताकार क्यारियों में 30 से अधिक प्रकार के फूल मिलते हैं। वृत्ताकार गार्डन मुगल गार्डन का सबसे प्रसिद्ध गार्डन है। इस गार्डन का नाम इसके गोल आकार के कारण पड़ा है। वैसे इसे सनकेन गार्डन, पर्ल गार्डन और बटरफ्लाई गार्डन भी कहा जाता है।

वृत्ताकार गार्डन के बीच में एक गोल तालाब भी है, जिसमें कमल के फूल लगाए जाते हैं। वार्षिक उदयनोत्सव समारोह के दौरान इस वृत्ताकार गार्डन में किसानों के लिए प्रदर्शन भी किए जाते हैं।

Circular Garden - Mughal Garden, Delhi
वृत्ताकार गार्डन - मुग़ल गार्डन, दिल्ली (Credit)

6. म्यूजिकल गार्डन

म्यूजिकल गार्डन एक ऐसा गार्डन है, जिसमें बहुत सारे पानी के झरने हैं। ये सभी झरने संगीत की लय के अनुसार नृत्य करते हैं। इनमें रंग-बिरंगी लाइटें भी होती हैं जो रात में काफी खूबसूरत लगती हैं। संगीत के आधार पर ये फव्वारे अपनी कला का प्रदर्शन करते हैं।

म्यूजिकल गार्डन की स्थापना भी फरवरी 2006 में डॉक्टर एपीजे अब्दुल कलाम ने किया था। यह गार्डन विज्ञान और संगीत के मेल का सुंदर उदाहरण है। गार्डन में भारत का राष्ट्रीय पक्षी मोर भी देख सकते है। म्यूजिकल गार्डन में ऑफ सीजन के समय शहनाई और वीणा की धुन पर देशभक्ति के गीत बजाए जाते हैं।

Musical Garden - Mughal Garden, Delhi
म्यूजिकल गार्डन - मुग़ल गार्डन, दिल्ली

मुगल गार्डन के अंदर जाने के बाद, आप राष्ट्रपति भवन, संग्रहालय और चेंज ऑफ गॉर्ड नामक एक समारोह भी देख सकते हैं।

आप मुगल गार्डन में पानी की बोतलें, खाने का सामान, बैग, कैमरा और छतरियां नहीं ले जा सकते। आप एक मोबाइल फोन ले सकते हैं, लेकिन आप इसका इस्तेमाल नहीं कर सकते। इसके अलावा, गार्डन के अंदर आप शौचालय, प्राथमिक चिकित्सा और पीने के पानी का उपयोग कर सकते हैं।

सुबह 10 बजे से शाम 5 बजे तक एक घंटे के सात स्लॉट होंगे। जिसके एक स्लॉट में कुल 100 लोग अंदर भेजे जाते है। कोरोनावायरस के कारण, आपको सरकार द्वारा दिए गए COVID प्रोटोकॉल का पालन करना होगा। जिसमें मास्क पहनना, सामाजिक दूरी बनाए रखना और थर्मल स्कैनिंग जांच करना अनिवार्य होगा।

अगर आपको पहले से ही बुखार, सर्दी और खांसी जैसी कोई समस्या है तो आपको मुगल गार्डन में प्रवेश नहीं मिलेगा। इसके अलावा आप मुगल गार्डन के अंदर गेट नंबर 35 से जा सकेंगे। टिकटों की भीड़ से बचने के लिए सिर्फ ऑनलाइन टिकट बुक किए जाएंगे।

2022 में मुगल गार्डन के टिकट की कीमत

टिकट बिल्कुल फ्री हैं। लॉकडाउन की वजह से आपको सिर्फ ऑनलाइन टिकट बुक कर जाना है। हर बार की तरह मुगल गार्डन के गेट पर टिकट काउंटर नहीं होगा। इसके साथ ही आपको अपने साथ आईडी प्रूफ (आधार कार्ड, वोटर कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, पासपोर्ट, स्कूल/कॉलेज आई-कार्ड) लाना होगा। महत्वपूर्ण बात यह है कि मुगल गार्डन में 10 वर्ष से कम और 65 वर्ष से अधिक आयु की अनुमति नहीं है।

2022 में मुगल गार्डन के खुलने की तारीख

मुगल गार्डन पर्यटकों के लिए साल में केवल एक बार 15 दिनों के लिए खुलता है। यह बसंत के मौसम में ही खुलता है। जिस समय फूल बड़ी मात्रा में खिलते हैं। 2022 में मुगल गार्डन 05 फरवरी से 08 मार्च तक खुला रहेगा। इसके खुलने का समय कभी निश्चित नहीं होता। लेकिन यह बसंत के मौसम में ही खुलता है।

2022 में मुगल गार्डन के खुलने का समय

Day Timing
मंगलवार से रविवार 10AM to 5PM
सोमवार बंद

मुगल गार्डन कहाँ है? | कैसे पहुंचें मुगल गार्डन?

मुगल गार्डन राष्ट्रपति भवन के अंदर स्थित है। और यह इंडिया गेट के पास स्थित है।
इसका पूरा पता है - मुगल गार्डन, मुगल गार्डन मार्ग, राष्ट्रपति भवन, राष्ट्रपति संपदा, नई दिल्ली, दिल्ली 110004, भारत।
  • नजदीकी बस स्टॉप - केंद्रीय टर्मिनल मुगल गार्डन का निकटतम बस स्टॉप है। इसकी दूरी 850 मीटर है।
  • नजदीकी मेट्रो स्टेशन - केंद्रीय सचिवालय मुगल गार्डन का निकटतम मेट्रो स्टेशन है। यह 700 मीटर की दूरी पर है।
  • नजदीकी रेलवे स्टेशन - नई दिल्ली मुगल गार्डन का निकटतम रेलवे स्टेशन है। यह 5.4 किमी की दूरी है।
  • नजदीकी हवाई अड्डा - आईजीआई हवाई अड्डा मुगल गार्डन का निकटतम हवाई अड्डा है। यह 10.6 किलोमीटर की दूरी है।

Hotels Near Mughal Garden

Hotels Contact
Amax Inn ⭐⭐ 011 43685742
Ahuja Residency ⭐⭐⭐ 01244019335
Hotel Emarald ⭐⭐⭐ 011 40044000
Shanti Plaza ⭐⭐⭐ 0 9582832162
Jukaso Inn Down Town ⭐⭐⭐ 011 23415450

FAQ

Q. मुगल गार्डन कहाँ है?
भारत में कुल 11 मुगल गार्डन हैं। लेकिन दिल्ली का मुगल गार्डन राष्ट्रपति भवन में स्थित है। इसका पूरा पता है - मुगल गार्डन, मुगल गार्डन मार्ग, राष्ट्रपति भवन, राष्ट्रपति संपदा, नई दिल्ली, दिल्ली 110004, भारत।

Q. मुगल गार्डन क्यों प्रसिद्ध है?
मुगल गार्डन अपने रंग-बिरंगे फूलों के लिए बहुत प्रसिद्ध है। इस गार्डन में आप दुनिया में हर तरह के पेड़, पौधे और फूल देख सकते हैं।

Q. क्या राष्ट्रपति भवन जनता के लिए खुलता है?
जी हां, वसंत ऋतु में राष्ट्रपति भवन में मनाए जाने वाले उद्यानोत्सव के दौरान राष्ट्रपति भवन आम जनता के लिए खोल दिया जाता है।

Q. क्या राष्ट्रपति भवन में मोबाइल की अनुमति है?
हां, आप अपना मोबाइल राष्ट्रपति भवन ले जा सकते हैं। लेकिन इसका इस्तेमाल करना मना है। आपको मोबाइल बंद करने के लिए कहा जा सकता है।

Q. राष्ट्रपति भवन में कुल कितने उद्यान स्थित है?
राष्ट्रपति भवन में कुल 6 गार्डन हैं। जिनके नाम हैं- हर्बल गार्डन, स्पिरिचुअल गार्डन, रेक्टेंगुलर गार्डन, लॉन्ग गार्डन, सर्कुलर गार्डन, म्यूजिकल गार्डन।

एक टिप्पणी भेजें