केदारनाथ कैसे पहुंचें - सबसे अच्छा और आसान रास्ता, सबसे कम किराया

क्या आप केदारनाथ जाना चाहते हैं? आपको यह जानने की जरूरत है कि केदारनाथ कैसे पहुंचे, दिल्ली से केदारनाथ कैसे पहुंचे और हरिद्वार से केदारनाथ कैसे पहुंचे
केदारनाथ मंदिर भारत का सबसे लोकप्रिय धाम है। यह मंदिर भारत के उत्तराखंड में स्थित है। केदारनाथ के दर्शन के लिए हर साल लाखों पर्यटक आते हैं। अगर आप केदारनाथ की यात्रा करने जा रहे हैं लेकिन आपको नहीं पता कि केदारनाथ मंदिर कैसे पहुंचा जाए। तो आज मैं आपको केदारनाथ पहुंचने की सभी रास्तों के बारे में बताऊंगा। इस जानकारी को आप English में भी पढ़ सकते है।
How to Reach Kedarnath
केदारनाथ कैसे पहुंचें

केदारनाथ कैसे पहुंचें - सबसे अच्छा और आसान रास्ता, सबसे कम किराया

केदारनाथ मंदिर तक पहुंचने के तीन रास्ते हैं। जो हरिद्वार, ऋषिकेश और देहरादून है। केदारनाथ हरिद्वार से 247 किमी दूर है। और केदारनाथ देहरादून से 256 किमी दूर है। लेकिन केदारनाथ ऋषिकेश से सिर्फ 105 किमी दूर है।

हवाई जहाज के जरिए: अगर आप फ्लाइट से आना चाहते हैं तो आपको देहरादून एयरपोर्ट आना होगा। भारत के लगभग सभी विमान यहां आते हैं। इसके बाद आपको बाकी की यात्रा बस या टैक्सी से करनी होगी।

ट्रेन के जरिए: केदारनाथ पहुंचने के लिए 3 रेलवे स्टेशन हैं। जिसमें पहला हरिद्वार, दूसरा देहरादून और तीसरा ऋषिकेश रेलवे स्टेशन है। हरिद्वार रेलवे स्टेशन एक बहुत बड़ा स्टेशन है। यहां भारत की सभी प्रमुख ट्रेनें आती हैं। लेकिन ऋषिकेश रेलवे स्टेशन पर लोकल ट्रेन ही आती है। 

इनमें से किसी एक रेलवे स्टेशन पर आने के बाद आप बस या टैक्सी से ही केदारनाथ मंदिर पहुंच सकते हैं। बस का किराया टैक्सी से काफी कम है। अगर आप अपने निजी वाहन से आ रहे हैं तो सोनप्रयाग तक पहुंच सकते हैं। इसके बाद आपको गौरीकुंड के लिए एक और सार्वजनिक टैक्सी किराए पर लेनी होगी। आप अपने निजी वाहन को सोनप्रयाग में 50 प्रति दिन की लागत पर आसानी से पार्क कर सकते हैं।
बस के जरिए: आप चाहें तो दिल्ली के कश्मीरी गेट से सीधे केदारनाथ के लिए बस भी ले सकते हैं। यहां से बस का किराया 750 रुपए होगा। इसी तरह, आप निकटतम अंतरराज्यीय बस स्टॉप से अपने केदारनाथ मंदिर के लिए बस ले सकते हैं।

दिल्ली से केदारनाथ कैसे पहुंचे ?

ट्रेन के जरिए: केदारनाथ पहुंचने का दूसरा सबसे आसान रास्ता दिल्ली से है। दिल्ली से केदारनाथ की दूरी 452 किलोमीटर है। यहां से आप नई दिल्ली रेलवे स्टेशन से ट्रेन के जरिए हरिद्वार या देहरादून रेलवे स्टेशन पहुंच सकते हैं। फिर आप बाकी की यात्रा बस या टैक्सी से कर सकते हैं।

How to Reach Kedarnath from Delhi
दिल्ली से केदारनाथ कैसे पहुंचे ?

फ्लाइट के जरिए: अगर आप फ्लाइट से केदारनाथ जाना चाहते हैं तो आपको दिल्ली के आईजीआई एयरपोर्ट से देहरादून एयरपोर्ट जाना होगा। यहां से आप बाकी की यात्रा बस या टैक्सी के जरिए कर सकते हैं।

बस के जरिए: दिल्ली के कश्मीरी गेट से आप केदारनाथ जाने वाली कोई भी बस बुक कर सकते हैं। दिल्ली से बस का किराया 750 रुपये है। या आप किसी भी बस बुकिंग मोबाइल एप से ऑनलाइन बस बुक भी कर सकते हैं। दिल्ली से बस से जाने में आपको 10 घंटे लग सकते हैं।

मुंबई से केदारनाथ कैसे पहुंचे ?

अगर आप मुंबई से केदारनाथ पहुंचना चाहते हैं तो सबसे अच्छा माध्यम ट्रेन है। मुंबई से केदारनाथ की दूरी 1867 किमी है। यदि आप बस से आना चाहते हैं तो इसमें बहुत अधिक समय लगेगा। और फ्लाइट का किराया महंगा हो सकता है।

How to Reach Kedarnath from Mumbai
मुंबई से केदारनाथ कैसे पहुंचे ?

ट्रेन के जरिए: मुंबई में कई रेलवे स्टेशन हैं। जहां से आप हरिद्वार या देहरादून रेलवे स्टेशन आ सकते हैं। फिर यहां से आपकी बाकी यात्रा बस या टैक्सी से करनी होगी।

फ्लाइट के जरिए: अगर आप फ्लाइट से केदारनाथ पहुंचना चाहते हैं तो आपको छत्रपति शिवाजी टर्मिनल से देहरादून एयरपोर्ट आना होगा। इसके बाद आपको बाकी की यात्रा बस या टैक्सी से करनी होगी। आप फ्लाइट से जल्दी केदारनाथ पहुंच सकते हैं। लेकिन इसका किराया थोड़ा महंगा है।

बस के जरिए: मुंबई से बस की सुविधा अच्छी नहीं है। इसलिए मैं आपको बस से जाने की सलाह नहीं दूंगा। आप चाहें तो निजी वाहन से जा सकते हैं। लेकिन बाद में आप अपने वाहन को सोनप्रयाग ही ले जा सकते हैं। इसके बाद आपको लोकल टैक्सी का ही इस्तेमाल करना होगा।

हरिद्वार से केदारनाथ कैसे पहुंचे ?

केदारनाथ मंदिर पहुंचने का सबसे आसान रास्ता हरिद्वार से है। हरिद्वार से केदारनाथ की दूरी 247 किलोमीटर है। यहां से आप बस या टैक्सी से 8 घंटे में केदारनाथ मंदिर पहुंच सकते हैं। बस आपको पहले सोनप्रयाग ले जाएगी। सोनप्रयाग के लिए बस का किराया 350 रुपये है। आपको हरिद्वार या ऋषिकेश से एक दिन पहले ही अपनी बस की टिकट खरीद लेनी चाहिए। आप बस स्टॉप पर बस काउंटर से अपना टिकट आसानी से खरीद सकते हैं।

How to Reach Kedarnath from Haridwar
हरिद्वार से केदारनाथ कैसे पहुंचे ?

केदारनाथ मंदिर का निकटतम शहर सोनप्रयाग है। सभी बसें और टैक्सियाँ यहाँ आती हैं और यह सभी वाहनों का अंतिम पड़ाव है। इसके बाद आपको सोनप्रयाग से गौरीकुंड तक 30 रुपये के किराए के साथ एक और लोकल टैक्सी से जाना होगा। यह 5 किमी की दूरी है। आप सोनप्रयाग से भी केदारनाथ पहुंच सकते हैं, एक तरफ के लिए 2500 रुपये का किराया देकर घुड़सवारी भी कर सकते हैं।

यहां से आप घोड़े या टोकरी पर सवार होकर केदारनाथ मंदिर तक जा सकते हैं, या पैदल ट्रैकिंग करके भी पहुंच सकते हैं। आप घुड़सवारी के लिए 2300 रुपये और टोकरी की सवारी के लिए 5000 रुपये का भुगतान कर सकते हैं। आप गौरीकुंड में भी राइड बुक कर सकते हैं। अगर आप पैदल चलकर केदारनाथ पहुंचना चाहते हैं तो आपको 15.8 किलोमीटर का सफर ट्रेकिंग से तय करना होगा।

हेलीकॉप्टर के जरिए: केदारनाथ पहुंचने के लिए हेलीकॉप्टर से आपको हरिद्वार से फाटा पहुंचना होगा। हरिद्वार से फाटा की दूरी 218 किमी है, यहां से आप एक राउंड ट्रिप के लिए 6000 रुपए किराए के साथ हेलीकॉप्टर से केदारनाथ मंदिर पहुंच सकते हैं। आप हेलीकॉप्टर के लिए टिकट ऑफलाइन और ऑनलाइन भी बुक कर सकते हैं।

देहरादून से केदारनाथ कैसे पहुंचे ?

देहरादून से केदारनाथ की दूरी 265 किमी है। यहां से आप बस या टैक्सी के जरिए आसानी से सोनप्रयाग पहुंच सकते हैं। आपको बस को दो बार बदलना पड़ सकता है। सोनप्रयाग पहुंचने में आपको 7 घंटे का समय लग सकता है। गौरीकुंड से सोनप्रयाग 5 किलोमीटर दूर है, आप घोड़े या टोकरी का उपयोग कर सकते हैं। 15 किलोमीटर की पैदल यात्रा के बाद आप केदारनाथ मंदिर पहुंच सकते हैं।

How to Reach Kedarnath from Badrinath
देहरादून से केदारनाथ कैसे पहुंचे ?

बद्रीनाथ से केदारनाथ कैसे पहुंचे ?

बद्रीनाथ से केदारनाथ जाने के लिए आप बस का इस्तेमाल कर सकते हैं। बद्रीनाथ से बस लेकर आप सोनप्रयाग आ सकते हैं। फिर बाकी का सफर टैक्सी से तय करना होगा। बद्रीनाथ से केदारनाथ की दूरी 225 किमी है। बद्रीनाथ से सोनप्रयाग पहुंचने में आपको 8 घंटे लग सकते हैं। बद्रीनाथ से केदारनाथ के लिए बस का किराया 500 रुपये है।

अधिकतर पूछे जाने वाले प्रश्न

Q. केदारनाथ मंदिर कहाँ स्थित है ?
केदारनाथ मंदिर भारत के उत्तराखंड राज्य के रुद्रप्रयाग जिले में स्थित है।

Q. केदारनाथ मंदिर किसने बनवाया था ?
यह स्पष्ट नहीं है कि केदारनाथ मंदिर किसने बनवाया था। इतिहास में कहीं न कहीं ऐसा कहा जाता है कि मालवा के राजा भोज ने इस मंदिर का निर्माण किया था। कहीं और लिखा है कि आदि शंकराचार्य ने इसे बनाया है।

Q. क्या केदारनाथ मंदिर में फोटोग्राफी और वीडियोग्राफी की अनुमति है ?
हां, आप केदारनाथ मंदिर के बाहर आसानी से फोटो और वीडियो ले सकते हैं। लेकिन आप केदारनाथ मंदिर के अंदर की तस्वीरें और वीडियो नहीं ले कर सकते हैं।

Q. क्या केदारनाथ मंदिर में बैग ले जाने की अनुमति है ?
हां, आप अपना बैग अपने साथ ला सकते हैं। लेकिन बेहतर होगा कि आप अपना सामान होटल में ही रखें।

Q. क्या मंदिर बंद होने की तिथि पर पर्यटक केदारनाथ मंदिर जा सकते हैं ?
हां, पर्यटक केदारनाथ जा सकते हैं लेकिन पर्यटक मंदिर के अंदर नहीं जा सकते।

एक टिप्पणी भेजें